जयपुर। राजस्थान के ब्यावर में एक दूल्हे को बैरंग लौटना पड़ा। उसे दहेज में बाइक मांगना महंगा पड़ गया। दुल्हन ने खुद शादी से इन्कार कर दिया और बारात वापस भेज दी। ब्यावर के भीमसिंह की बेटी पूजा की शादी फतेहपुर निवासी निकेशसिंह के साथ तय हुई। निकेश की बारात दोपहर को आनी थी लेकिन इससे पहले ही दूल्हे ने दुल्हन पूजा को फोन किया और दहेज में बाइक की मांग कर दी। पूजा ने इस दहेज की मांग के बारे में अपने पिता को बताया तो सदमे में उनकी तबीयत खराब हो गई।

दहेज का दबाव बढ़ाते हुए, मांग पूरी नहीं होते देख लड़के ने अपनी बारात में भी देरी करना शुरू कर दी। पूजा ने फैसला कर लिया कि दहेजलोभियों के घर शादी नहीं करेगी। पूजा ने परिवार वालों से कह दिया कि ऐसे लड़के के साथ शादी नहीं करेगी जो दहेज का लालची हो। परिवार ने पूजा के कहने पर शादी की तैयारियों को रोक दिया। जब दूल्हा बारात के साथ पूजा के घर पहुंचा तो वहां पर किसी भी प्रकार की तैयारियों नहीं देखकर दंग हो गए। लड़के वालों की ओर से कुछ लोग लड़की के घर पहुंचे। कुछ लोगों ने बातचीत की तो सामने आया कि लड़के की मोटर साइकिल की मांग वे पूरी नहीं कर सकते हैं और लड़की ने ऐसे दहेज लोभी से शादी करने से मना कर दिया है।
लड़के वालों ने मनाने की कोशिश भी की, लेकिन पूजा और उसके परिवार वालों ने शादी से मना कर दिया। माहौल गर्माया तो लड़की वालों ने सिटी थाना पुलिस को शिकायत देकर मौके पर बुलाया। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षों की बात सुनने के बाद लड़के वालों को वहां से चले जाने को कहा। इसके बाद बारात बिना दुल्हन के ही बैरंग लौट गई।