ग्वालियर  ।पुलिस अधीक्षक ग्वालियर   नवनीत भसीन के निर्देशानुसार ग्वालियर जिले में फरारी इनामी बदमाषोंकी धरपकड़ हेतु अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत अतिरिक्त पुलिस अधीक्षकशहर-मध्य एवंअपराध   पंकज पाण्डेयने अपने अधीनस्थ थाना प्रभारियों को फरारी इनामी बदमाषों की धरपकड़ हेतु मुखबिर तंत्र विकसित करने के निर्देष दिये।वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देषों के परिपालन में दिनांक 17.04.19 को थाना प्रभारी मुरार निरी०  अखिलेष गोस्वामी को जरिये मुखबिर सूचना मिली कि दो बदमाष अवैध षराब के साथ मुरार से बड़ेगांव की तरफ जा रहै है। उक्त सूचना पर तत्काल कार्यवाही करते हुऐ थाना प्रभारी मुरार ने मय थाना बल के बड़गांव खुरैरी चैकिंग प्वाइंट पर सघन चैकिंग प्रांरभ कर दी। पुलिस चैकिंग को देख कर मोटर सायकिल पर सवार दो बदमाषों ने भागने का प्रयास किया जिनमे से एक बदमाष को पुलिस टीम द्वारा घेराबंदी कर पकड़ लिया गया। एक अन्य बदमाष अंधेरे और भौगोलिक स्थितियों को फायदा उठाकर भाग निकला। पुलिस द्वारा गिरफ्तार बदमाष की तलाषी लेने पर उसके कब्जे से ३५० देषी शराबके क्वाट्र(६३ लीटर)कुल कीमती २१,०००/- रूपये के बरामद हुऐ। बदमाष से सख्ती से पूछताछ करने पर उसने अपना नाम अमन पुत्र अषोक यादव उम्र २२ साल निवासी बडागॉव मुरार, ग्वालियर बताया। गिरफ्तार बदमाष के विरूद्ध थाना मुरार मे प्रकरण पंजीबद्ध किया जा कर बदमाष से उसके फरार साथी एवं अवैध शराब के संबंध मे पूछताछ की जा रही है।
सराहनीयभूमिका-उक्त अवैध शराब बिक्री करने वाले बदमाष को गिरफ्तार करने मे थाना प्रभारी निरी० अखिलेष गोस्वामी, प्रआर० रामजीशरण सिंह, आर० अनिल शर्मा, नीरज यादव, महावीर सिंह, राजवीर कौषल, आर० चालक कृष्णपाल सिंह की सराहनीय भूमिका रही है।