एक सिरफिरे आशिक ने पहले युवती का रिश्ता तुड़़वाया और फिर शादी रचाने का दबाव बनाने लगा। विरोध करने पर दुष्कर्म की कोशिश भी की। किसी तरह से युवती ने जान बचाई तो आरोपित ने अब उस पर तेजाब फेंकने की धमकी दी। युवती की शिकायत पर पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

पीड़िता द्वारा थाना छप्पर पुलिस को दी शिकायत के मुताबिक, 2015 में वह 12वीं पास करने के बाद कंप्यूटर कोर्स कर रही थी। कोर्स सीखने के लिए वह रोज छप्पर आती-जाती थी। इस दौरान तलाकौर गांव निवासी भूपेंद्र सिंह उसे परेशान करने लगा। वह उसके कंप्यूटर सेंटर के बाहर भी हर समय वह खड़ा रहता था। वह उसे अनदेखा करती रही।

युवती के मुताबिक भूपेंद्र ने कहीं से उसका मोबाइल नंबर हासिल कर लिया। फिर फोन पर भी परेशान करने लगा। आरोपित उससे कहता था कि दोनों एक ही जाति के हैं और शादी कर लेंगे। युवती ने इन्कार कर दिया, लेकिन वह नहीं माना। युवती ने अपने परिजनों को इसलिए नहीं बताया कि वह कहीउसका सेंटर पर जाना न छुड़वा दें। दो साल तक आरोपित परेशान करता रहा। रास्ते में रोककर छेड़छाड़ करता रहा।

 

मंगेतर के घर पहुंच गया भूपेंद्र

 

 

इस बीच युवती की सगाई हो गई। एक दिन युवती अपने घर जा रही थी। तभी रास्ते में भूपेंद्र ने उसका रास्ता रोक लिया। युवती ने उससे कहा कि वह उसका पीछा करना छोड़ दे, क्योंकि अब उसका रिश्ता तय हो चुका है। भूपेंद्र ने युवती के मंगेतर का घर पता किया और वहां पहुंच गया। आरोप है कि भूपेंद्र ने उसके मंगेतर को भड़काया। जिस कारण उसका रिश्ता भी टूट गया।

शादी से विरोध करने पर खेतों में ले गया था

 

 

31 मार्च को युवती किसी काम से गांव में जा रही थी। तभी रास्ते में भूपेंद्र ने उसे रोक लिया और कहा कि अब तो रिश्ता टूट गया है। वह उससे शादी करने को तैयार है। युवती ने विरोध किया तो आरोपित ने उसे पकड़ लिया और खेतों में खींचकर ले गया। उसके साथ दुष्कर्म करने की कोशिश की। युवती ने चिल्लाना शुरू कर दिया। इसी दौरान कोई व्यक्ति वहां आया तो आरोपित भाग गया। जाते-जाते युवक चेहरे पर तेजाब फेंकने की धमकी देकर गया।