पुणे. लोकसभा की पुणे सीट कांग्रेस की परंपरागत सीट रही है। 16 में से 12 बार यहां कांग्रेस का कब्जा रहा। पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश कलमाड़ी का गढ़ कही जाने वाली पुणे लोकसभा सीट 2014 में कांग्रेस के हाथों से निकल भाजपा के खाते में आ गई थी।

पुणे सीट से कांग्रेस ने अपने दिग्गज नेता मोहन जोशी को चुनावी रण में उतारा है। वहीं, भारतीय जनता पार्टी ने गिरीश भालचंद्र बापट को प्रत्याशी बनाया। यहां बहुजन समाज पार्टी की ओर से उत्तम पांडुरंग शिंदे, जबकि वंचित बहुजन आघाडी से अनिल नारायण जाधव चुनाव लड़ रहे हैं। बहुजन मुक्ति पार्टी की ओर से बालासाहेब मिसाल पाटिल उम्मीदवार हैं। इसके अलावा 15 निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। पुणे सीट पर छह विधानसभाएं आती हैं। इन सभी पर भाजपा का कब्जा है।

2014 के चुनाव का गणित

पुणे सीट से मौजूदा सांसद भाजपा के अनिल शिरोले उर्फ पद्माकर गुलाबराव शिरोले हैं। उन्होंने इस सीट पर साल 2014 के चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी विश्वजीत कदम को 3 लाख से ज्यादा वोटों से हराया था। अनिल शिरोले को तब 5,69,825 वोट मिले थे, जबकि विश्वजीत कदम को मात्र 2,54,056 वोटों पर संतोष करना पड़ा था।

इत‍िहास
इस सीट से 1951 में पहले कांग्रेस सांसद एन गाडगिल थे। उसके बाद बीच-बीच में प्रजा सोशलिस्ट पार्टी, संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी, भारतीय लोक दल के सांसद भी बने। कांग्रेस के वर्चस्व को 1991 में भाजपा से चुनौती मिली। यहां से अन्ना जोशी भाजपा के पहले सांसद बने। 1996 में इस सीट से पहली बार सुरेश कलमाड़ी सांसद बने, जो कॉमनवेल्थ खेल घोटाले में चर्चित रहे हैं।

कलमाड़ी उसके बाद 2004 और 2009 में भी कांग्रेस के टिकट पर यहीं से सांसद बने। कॉमनवेल्थ घोटाले में नाम आने के बाद कलमाड़ी का टिकट काट कांग्रेस ने डॉ. पतंगराव कदम को 2014 में चुनाव मैदान में उतारा था। 2014 की मोदी लहर में न सिर्फ लोकसभा बल्कि विधानसभा चुनावों में भी कांग्रेस साफ हो गई। 2014 में कांग्रेस की यह परंपरागत सीट पूरी तरह भाजपा के रंग में रंग गई। 

वर्तमान सांसद 
अनिल शिरोले सोलहवीं लोकसभा के भारतीय जनता पार्टी के सांसद हैं। लोकसभा चुनाव में उन्होंने कांग्रेस के प्रत्याशी डॉ. विश्वजीत पतंगराव कदम को तीन लाख से ज्यादा वोटों से हराया था। संसद में अनिल शिरोले ने 17 डिबेट में भाग लिया और 196 प्रश्न पूछे।


पुणे लोकसभा सीट- 

साल    सांसद    पार्टी
1951    नरहर गाडगिल (पूना सेंट्रल), इंदिरा अनंत मयदेव (पूना दक्षिण)    इंडियन नेशनल कांग्रेस
1957    नारायण गणेश गोरे    प्रजा सोशलिस्ट पार्टी
1962    शंकरराव मोरे    इंडियन नेशनल कांग्रेस
1967    एस.एम. जोशी    संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी
1971    मोहन धारिया    इंडियन नेशनल कांग्रेस
1977    मोहन धारिया    भारतीय लोक दल
1980    विट्ठलराव गाडगिल    इंडियन नेशनल कांग्रेस
1984    विट्ठलराव गाडगिल    इंडियन नेशनल कांग्रेस
1989    विट्ठलराव गाडगिल    इंडियन नेशनल कांग्रेस
1991    अन्ना जोशी    भारतीय जनता पार्टी
1996    सुरेश कलमाड़ी    इंडियन नेशनल कांग्रेस
1998    विठ्ठल तुपे    इंडियन नेशनल कांग्रेस
1999    प्रदीप रावत    भारतीय जनता पार्टी
2004    सुरेश कलमाड़ी    इंडियन नेशनल कांग्रेस
2009    सुरेश कलमाड़ी    इंडियन नेशनल कांग्रेस
2014    अनिल शिरोले    भारतीय जनता पार्टी