प्रस्तुत सप्ताह का प्रारम्भ विक्रमी भाद्रपद प्रविष्टे 5, भाद्रपद कृष्ण तिथि चतुर्दशी रविवार विक्रमी सम्वत् 2074, राष्ट्रीय शक सम्वत् 1939, दिनांक 29 (श्रावण) को होकर समाप्ति विक्रमी भाद्रपद प्रविष्टे 11, भाद्रपद शुक्ल तिथि पंचमी, शनिवार को होगी।


पर्व, दिवस तथा त्यौहार : 20 अगस्त मासिक शिवरात्रि व्रत, संत हरचंद सिंह लौंगोवाल बलिदान दिवस, रवि पुष्य योग (सायं 5.22 तक), 21 अगस्त भाद्रपद अमावस, पिठोरी अमावस, सोमवती अमावस, कुशोत्पाटिनी (कुश ग्रहणी) अमावस, मेला हरिद्वार, श्री प्रयाग राज, मेला रानी सती झुंझुनूं (राजस्थान), 22 अगस्त भाद्रपद शुक्ल पक्षारम्भ, शरद ऋतु प्रारम्भ, 23 अगस्त चंद्र दर्शन, राष्ट्रीय शक भाद्रपद मासारंभ, मेला डेरा श्री गोसाईं आणां (कुराली), 24 अगस्त हरितालिका तृतीया, गौरी तृतीया, श्री वराह जयंती, जिल्हिज (मुस्लिम) महीना शुरू, पत्थर चतुर्थी, कलंक चतुर्थी (चंद्र दर्शन निषेध- किन्तु महाराष्ट्र, गुजरात इत्यादि राज्यों में पत्थर (कलंक) चतुर्थी 25 अगस्त को मनाई जाएगी, 25 अगस्त हरितालिका चतुर्थी, श्री सिद्धि विनायक चतुर्थी व्रत, गणपति उत्सव (मंडी), हिमाचल गणेशोत्सव प्रारम्भ, मेला महासू (सिरमौर) प्रारम्भ, 26 अगस्त ऋषि पंचमी पर्व, सम्वत्सरी महापर्व (जैन), श्री गर्गाचार्य जयंती, मेला पट्ट (भद्रवाह) प्रारम्भ।


खग्रास सूर्य ग्रहण : खग्रास सूर्य ग्रहण 21 अगस्त को लगेगा, किंतु यह भारत में कहीं भी दिखाई न देगा। वैसे धरती पर ग्रहण लगने का समय रात 9.16 (भारतीय टाइम) है तथा हटने का समय 21-22 अगस्त मध्य रात 2.34 है।