शादी एक एेसा रिश्ता है जाे 2 लाेगाें काे ही नहीं, बल्कि दाे परिवाराें काे अापस में जाेड़ता है। इस नए रिश्ते के साथ बहुत सी जिम्मेवारियां भी अाती हैं। लेकिन अाज भी बहुत से लड़के-लड़कियां एेसे हैं, जिनकी कम उम्र में ही शादी करवा दी जाती हैं। कभी पुराने रीति-रिवाजाें के नाम पर, ताे कभी बड़ाें-बूढाें की अाखिरी ख्वाहिश के कारण। क्या अाप जानते हैं कि कम उम्र में शादी करवाने के भी कुछ फायदे और नुक्सान हैं, जिनके बारे में अाज हम अापकाे बताने जा रहे हैं। 

कम उम्र में शादी के फायदेः-

- लड़का और लड़की काे अपने जीवनसाथी को समझने में आसानी होती है।   

- वह एक दूसरे के साथ ज्यादा से ज्यादा समय व्यतीत कर सकते हैं।

- लड़की आसानी से अपने ससुराल में घुलमिल सकती है।

- इससे प्रेग्नेंसी संबंधी परेशानियाें में कमी अाती है।

कम उम्र में शादी के नुकसानः-

- दाेनाें पर समय से पहले ही पारिवारिक जिम्मे‍दारी अा जाती है।

- दोनों की समझ कम होती है और वे फैमिली प्लानिंग पर ध्यान नहीं देते हैं जोकि जनसंख्या में बढ़ाेतरी का प्रमुख कारण है।

- कम उम्र में शादी करने से दाेनाें की शिक्षा और करियर पर असर पड़ता है।

- आप परिवार की जरूरतों को पूरा नहीं कर पाते।

- स्त्रियों को कम उम्र में ही बच्चों को संभालने की जिम्मेदारी उठानी पड़ती है, जिसके लिए शायद वह तैयार भी नहीं होती। 

- पारिवारिक जरूरतें पूरी न होने पर घर पर कलह बढ़ते हैं, जिससे रिश्ताें में तनाव अाता है।