नई दिल्ली|  झारखंड एकेडमिक काउंसिल (जैक) ने बुधवार दोपहर करीब सवा एक बजे मैट्रिक रिजल्ट ( JAC Jharkhand Board Class 10 Result 2020 ) घोषित कर दिया। नतीजे शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने जारी किए। इस बार पिछले साल की तुलना में करीब 5 फीसदी बच्चे अधिक पास हुए हैं। पिछले साल जहां 70.81 फीसदी छात्र-छात्राएं पास हुए थे, वहां इस साल 75.01 फीसदी छात्र-छात्राएं पास हुए हैं। जैक ने कहा है कि इस बार टॉपरों का ऐलान नहीं किया जाएगा। परीक्षार्थी अपना परिणाम jac.jharkhand.gov.in पर भी चेक कर सकते हैं। नतीजे जारी होने के साथ ही राज्य के मैट्रिक कक्षा के 3.86 लाख छात्र-छात्राओं का इंतजार खत्म हो गया है। इस वर्ष मैट्रिक की परीक्षा 11 से 28 फरवरी तक आयोजित की गई थी। लॉकडाउन के कारण मूल्यांकन कार्य बढ़ाना पड़ा था। इस कारण रिजल्ट आने में विलंब हुआ।

लड़कियों ने बाजी मारी : मैट्रिक की परीक्षा में लड़कियों ने बाजी मारी है। 1,51,925 बेटियां पास हुई हैं, जबकि 1,37,003 छात्र सफल हुए हैं। मैट्रिक की परीक्षा में 2,04,612 छात्र और 1,80,532 छात्रा शामिल हुए थे।

छह साल बाद रिजल्ट 75 प्रतिशत पार: झारखंड के मैट्रिक का रिजल्ट छह साल बाद 75 फीसदी पार हुआ है। इस बार 75.01 प्रतिशत छात्र-छात्रा सफल हुए हैं। इससे पहले 2013 में 75.30 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल हुए थे। 2015 में 71.20 प्रतिशत, 2016 में 67.54 प्रतिशत, 2017 में 67.83 प्रतिशत, 2018 में 59.56 प्रतिशत और 2019 में 70.81 प्रतिशत रिजल्ट रहा था।

- इस बार पिछले साल की तुलना में 5 फीसदी बच्चे अधिक पास हुए हैं। पिछले साल जहां 70.81 फीसदी छात्र-छात्राएं पास हुए थे, वहां इस साल 75.01 फीसदी छात्र-छात्राएं पास हुए हैं। 

- कोडरमा जिले का रिजल्ट सबसे अच्छा रहा है। यहां 83.064 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए हैं। दूसरे नंबर पर रांची (80.052 फीसदी) और तीसरे पर पलामू (80.030 फीसदी) रहे। सबसे खराब रिजल्ट पाकुड़ जिले (63.987%) का रहा।

- लड़कों का रिजल्ट 75.88 फीसदी और लड़कियों का रिजल्ट 74.25 फीसदी रहा। 
- कुल 385144 विद्यार्थी परीक्षा में बैठे थे। इसमें से 288928 पास हुए हैं। 
- 148051 फर्स्ट डिविजन से, 124036 सेकेंड डिविजन से और 16841 थर्ड डिविजन से पास हुए हैं।

- 52 फीसदी फर्स्ट डिविजन से, 42 फीसदी सेकेंड डिविजन से और 6 फीसदी थर्ड डिविजन से पास हुए हैं।
- परीक्षा देने वाले 3.85 लाख स्टूडेंट्स में से 2.88 लाख स्टूडेंट्स पास हुए। 
- 10वीं में कुल 75.01 फीसदी स्टूडेंट्स पास

 

कोटिवार रिजल्ट
सामान्य जाति- 74.01%
एससी वर्ग - 71.11%
एसटी - 74.37%
ओबीसी - 79.88%
अत्यंत पिछड़ा वर्ग - 77.05%

 

01:29 PM : शिक्षा मंत्री ने रिजल्ट जारी किया।

01:29 PM : जैक ने कहा, मैट्रिक टॉपर की आज घोषणा नहीं होगी।

01:16 PM : झारखंड बोर्ड मैट्रिक रिजल्ट जारी करने को लेकर मंच तैयार हो चुका है। प्रेस कॉन्फ्रेंस शुरू होने वाली है। शिक्षा मंत्री का इंतजार हो रहा है। 

01:08 PM : कुछ ही देर में शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो रिजल्ट जारी करेंगे।

01:00 PM : पिछले वर्ष (2019) में मैट्रिक का रिजल्ट 16 मई को जारी किया गया था। 4 लाख 38 हजार 256 परीक्षार्थियों में 3 लाख 10 हजार 158 छात्र-छात्रा सफल हुए थे। इनमें 1 लाख 68 हजार प्रथम श्रेणी और 1 लाख 26 हजार परीक्षार्थी द्वितीय श्रेणी से पास हुए थे। रिजल्ट के मामले में पलामू जिला अव्‍वल रहा था, जबकि गिरिडीह दूसरे और हजारीबाग तीसरे स्थान पर रहा था।

12:30 PM : झारखंड बोर्ड की वेबसाइट jac.jharkhand.gov.in/jac पर click here for jac exam 2020 results का लिंक दिखने लगा है। इसी लिंक पर क्लिक कर स्टूडेंट्स रिजल्ट चेक कर सकेंगे।

12:07 PM :  जैक अध्यक्ष ने बताया कि इस बार भी मैट्रिक व इंटर के लिए कंपार्टमेंटल परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। इसमें वो बच्चे शामिल हो सकेंगे जो परीक्षा में असफल रहें हो। 

11:45 AM :  मैट्रिक में एक सौ अंक का आंतरिक मूल्यांकन भी किया जाएगा। इस अंक को स्कूलों ने पहले ही जैक को दे दिया है। इसमें बच्चों के स्कूली गतिविधियों में शामिल होने से लेकर उनके शैक्षणिक स्तर को देखते हुए अंक दिए गए हैं। 

11:25 AM : कुछ दिनों पहले झारखंड एकेडमिक काउंसिल (जैक) के नाम से नकली वेबसाइट बनाकर फर्जीवाड़ा करने का मामला सामने आया था। जैक का लोगो लगाकर इस साइट पर मैट्रिक-इंटर का फर्जी रिजल्ट जारी कर दिया गया था। यही नहीं इस फर्जी वेबसाइट पर फर्जी प्रमाण पत्र भी दिया जा रहा था। जानकारी मिलते ही जैक ने इसकी जांच शुरू की। वेबसाइट बंद करवाई गई। नेशनल सायबर कोर्डिनेशन सेंटर ने इस फर्जी यूआरएल को ब्लॉक किया।

10:51 AM : जैक की आठवीं परीक्षा में असफल विद्यार्थियों के लिए विशेष परीक्षा का आयोजन अगस्त में करेगा। इसमें 53 हजार असफल बच्चों को दोबारा परीक्षा देने का मौका मिलेगा। इनमें से 42 हजार से अधिक परीक्षार्थी परीक्षा में असफल हुए थे और 10 हजार  परीक्षार्थी परीक्षा से अनुपस्थित थे। 

10:24 AM : झारखंड एकेडमिक काउंसिल (जैक) इस बार नौवीं और 11वीं की विशेष कंपार्टमेंटल परीक्षा आयोजित नहीं करेगा। दोनों कक्षाओं में करीब 26 हजार परीक्षार्थी असफल हुए हैं, जिन्हें दोबारा मौका नहीं दिया जाएगा। 

09:31 AM : नतीजे जारी होने में सिर्फ चार घंटे बाकी रह गए है। चार घंटे बाद स्टूेडंट्स का इंतजार खत्म हो जाएगा।

09:30 AM :  परीक्षा के बाद जैक ने 20 मार्च से उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन शुरू किया था। लेकिन लॉकडाउन के कारण मूल्यांकन कार्य स्थगित करना पड़ा था। इसके बाद यह जून में शुरू हुआ था।

09:23 AM :  पिछले वर्ष 10वीं कक्षा में 70.77 प्रतिशत स्टूडेंट्स पास हुए थे। लड़कों का पास प्रतिशत 72.99, जबकि लड़कियों को पास प्रतिशत 68.67 रहा था।  1,67,916 स्टूडेंट्स फर्स्ट डिविजन, 1,25,853 स्टूडेंट्स सेकेंड डिविजन और 16,389 थर्ड डिविजन पास हुए थे। 

09:14 AM : झारखंड एकेडमिक काउंसिल, रांची की आधिकारिक वेबसाइट jacresults.com पर या  jac.jharkhand.gov.in पर नतीजे घोषित किए जाएंगे छात्र अपना रिजल्ट चेक कर सकेंगे। 

08:53 AM :  जैक मैट्रिक व इंटर में इस बार कुल 6.20 लाख परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी है।

08:42 AM : जैक अध्यक्ष ने बताया कि इस बार भी मैट्रिक व इंटर के लिए कंपार्टमेंटल परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। इसमें वो बच्चे शामिल हो सकेंगे जो परीक्षा में असफल रहे हों।

08:27 AM : जैक अध्यक्ष ने बताया कि दूसरे चरण में इंटर साइंस और कॉमर्स का रिजल्ट निकाला जाएगा। इसके बाद तीसरे चरण में इंटर आर्ट्स का रिजल्ट जारी कर दिया जाएगा। 

08:10 AM :  उन्होंने उम्मीद जतायी कि दूसरे चरण का रिजल्ट 15 जुलाई से पहले और तीसरे चरण का रिजल्ट तीसरे सप्ताह तक निकाल दिया जाएगा। मालूम हो कि इंटर में 2.34 लाख छात्र-छात्राओं ने परीक्षा दी है। 

08:00 AM : पिछले वर्ष 2019 में मैट्रिक परीक्षा में 4.40 लाख परीक्षार्थी शामिल हुए थे।